Ratnakar Mishra

12/31/2011

एक आखरि मौका ….Please दे दो न भगवान्

Filed under: Social issue — ratnakarmishra @ 10:04 am
Tags: , ,

आज मैं आप सबो को अपनी जात की  कहानी सुनाता हूँ  , जात से आप  कुछ गलत मतलब नहीं निकाल लीजिये गा , मैं कोई जाती वाद या , सम्प्रदाएक बात नहीं करने वाला हूं वैसे भी ये बाते मैं या तो अपने देश के नेता या फिल्म वालो पर छोड़ देता हूँ , वो ज्यादातर इस तरह की बाते करते है .

मैं तो आपको इस दुनिया के सबसे अजीब से समाज के सबसे  अजीब  सी   जात से आप का परिचय करा रहा हूं अरे डरने की कोई बात ही नहीं है, हम भी आप लोगो की तरह इसी धरती पर रहेते है , मगर लाइफ एलियन वाली जीते है .

‘हमें अपने  workplace  से इतना प्यार है की , हमारी जाति के 22Percent  लोग अपने co-workers से ही शादी कर लेते है ‘

‘हम कही भी जिमेदारी लेना नहीं चाहते चाहे वो घर हो या बाहर ‘

‘हमारी जिन्दगी पूरी की पूरी confusion  मैं ही गुजरती है , कार से ले कर मकान तक … ‘ये blue  वाला कार ठीक  रहेगा या Green  वाला ‘ …’अपने घर मैं  रहना  है या फिर कही विदेश मैं settling down  होना है , पूरी लाइफ confusion  से भरी रहती है ‘

‘हमें कुछ भी saving  करना नहीं आता चाहे वो beer  हो या water … फिर पैसे बचाने की बात ही नहीं आती है … चाहे कितना भी मिले … 25th  के बाद हमेसा 1 का इंतजार रहता है ‘

‘हम कभी भी संतुष्ट नहीं होते … ‘साला ये भी कोई salary hike  है …इस से तो अच्छा नहीं ही देते …. ,…..क्या इस बार variable pay सिर्फ  90 Percent ही मिलेगा …धत तेरे की …इतने मैं क्या होगा ‘

‘इतने सारे चीजो के बाद भी हम काम  9-10 घंटे डेली काम करते है ‘

‘हमें अपने घर वालो के साथ रहना पसंद नहीं है ….हम शेर के बच्चे तो है ….बस जैसे ही अपने पैरो पर खड़े हुए की नहीं …. अपना शिकार करने खुद ही निकल जाते है वो बात अलग है की शिकार करते नहीं खुद हो जाते है  ..’

‘हम पूरी universe  मैं कभी भी खुस नहीं रहने वाले जीवो मैं से एक है … हमेसा कोई न कोई प्रॉब्लम रहती ही है …..बीवी से ले कर वीसा तक और , Girlfriend  से  ले कर Promotion  तक , Onsite Trips से ले कर commitments तक .’

‘बस हम सभी मतलब की हमारी बिरादरी के 100 Percent  लोग दिन रात भगवान् से यही प्राथना करते है की ,भगवान् लाइफ मैं एक और मौका दो .. …इस बार ये SOFTWARE ENGINEER  वाली लाइफ नहीं चुनुगा ‘
Advertisements

2 Comments »

  1. Dil ki baat bol di yaara…..

    Comment by Shashwat Shriparv — 12/31/2011 @ 6:09 pm | Reply

  2. 🙂 🙂 🙂

    Comment by Rohit Kumar Singh — 01/13/2013 @ 5:22 am | Reply


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: